Remedy to go Abroad | Navratri special | इस उपाय से खुल जाऐंगे विदेश यात्रा के रास्ते

videsh yatra yog

Remedy to go Abroad | Navratri special | इस उपाय से खुल जाऐंगे विदेश यात्रा के रास्ते

Remedy to go Abroad

विदेश यात्रा के लिए अचूक उपाय

नवरात्रों के दिन बहुत शक्तिशाली माने गए हैं क्योंकि हम इन दिनों में मां दुर्गा की शक्ति रुप में पूजा करते हैं इसलिए इन दिनों में किए गए उपाय बहुत ही कारगर सिद्ध होते हैं बहुत से साधक तरह-तरह के तंत्र-मंत्र करते हैं। क्योंकि इन दिनों में किए गए साधना बहुत असरदार होती है दोस्तों मां का व्यापक रूप है जगत जननी मां शक्तिरूपा है,मां की पूजा स्तुति से हम अपना नव वर्ष आरंभ करते हैं मां दुर्गा की आराधना से दुर्गा भाग्य ग्रस्त व्यक्ति विषम भाग्यशाली हो जाता है तो इन नौ नवरात्रों में मैं अलग-अलग प्रयोग आपको बताऊंगी, जिनसे आप अपनी समस्याओं से मुक्ति पा सकेंगे।

आज मैं यहां पर विदेश जाने के लिए एक उपाय बता रही हूं।आजकल हर कोई विदेश जाने की बात करता है, पहले एक समय था जब लोग विदेश जाना नहीं चाहते थे, विदेश जाने कोई एक सजा के समान माना जाता था। परंतु आज समय बदल गया है हर इंसान आज यह चाहता है कि किसी न किसी तरह से उसका विदेश जाने का सपना पूरा हो जाए।विदेश जाने के लिए लोगों को बहुत सारी तरह की है फॉर्मेलिटी पूरी करनी पड़ती हैं, जिनमें बहुत सारा समय और पैसे की जरूरत होती है, कई बार तो ऐसा होता है कि थोड़े समय थोड़े पैसे से ही आपका विदेश जाने का सपना पूरा हो जाता है,परंतु कुछ लोगों के साथ ऐसा नहीं होता क्योंकि उनकी कुंडली के ग्रहों की स्थिति ऐसी होती है, जिसमें विदेश जाने का योग कमजोर होता है,ऐसे लोगों के लिए एक बड़ा सरल सा उपाय है, जो आप नवरात्रों में कर सकते हैं इसके लिए आपको कुछ सामग्री चाहिए होगी, जो इस प्रकार है।

सामग्री

लाल वस्त्र
लाल आसन
श्री हनुमान यंत्र
8 लग्न मंडप सुपारी
सिंदूर
मिट्टी का कुल्हड (घडा)
सवा किलो गेहूं

विधि इस प्रकार है,आप नवरात्रों में रोजाना नहा-धोकर लाल वस्त्र पहन लें, एक चौकी पर लाल वस्त्र बिछाकर उस पर गेहूं की ढेरी बना ले, उसके गेहूं की ढेरी पर 8 सुपारी गोलाकार रूप में रख दें फिर गेहूं की डेरी पर हनुमान यंत्र इस प्रकार से रखें कि आधा यंत्र गेहूं की ढेरी के बाहर और आधा यंत्र उसके अंदर हो। अब एक देसी घी का दीपक जला लें।आप सभी सुपारी पर इस मंत्र का जाप करते हुए सिंदूर अर्पित करें।

मंत्र – क्षं फट्

इस मंत्र का जितना यथासंभव जप कर सकें उतना करें,अगर आप ज्यादा ना कर सके, तो फिर भी कम से कम रोज 54 बार इस का जप अवश्य करें।ऐसा आपने नवरात्रों के लगातार 9 दिन करना है अब उसके बाद दशहरे वाले दिन सारी सामग्री को इकट्ठा करके मिट्टी के घड़े में डाल दें, इस घड़े में आप कुछ सिक्के एक या दो रुपए के अपनी श्रद्धा के अनुसार डाल दें फिर आप इस घड़े को किसी भी दुर्गा माता के मंदिर में छोड़ दें या आप इसको किसी चौराहे पर भी छोड़ सकते हैं। इस उपाय को करने से आप देखेंगे कि कुछ ही दिनों में आपके विदेश जाने के रास्ते खुले लगेंगे।

No Comments

Give a Reply