Tantra to increase profit in business(व्यापार में लाभ बढाने के लिए तन्त्र)

Tantra to increase profit in business(व्यापार में लाभ बढाने के लिए तन्त्र)

Tantra to increase profit in business

(व्यापार में लाभ बढाने के लिए तन्त्र)

 

कभी-कभी हमें ऐसा लगता है कि व्यापार में बहुत मेहनत करने के बाद भी सफलता नहीं मिल रही है,
बहुत सा धन लगाने के बाद भी व्यापार नहीं चल रहा। अगर ऐसे ही स्थिति कभी भी बिजनेस में बनती है तो यह मंत्र बहुत ही शक्तिशाली है इस मंत्र को कुबेर यंत्र पर सिद्ध करने से व्यापार में मनवांछित सफलता मिलती है।

चलिए जानते हैं कि इस मंत्र को करने की विधि क्या है?

सामग्री– घी का दिया, जल का पात्र, पारद कुबेर यंत्र अगरबत्ती,4 किशमिश
माला- स्फटिक की माला
समय- रात्रि का कोई भी समय
आसन- सफेद रंग का सूती आसन
दिशा- उत्तर दिशा
जप संख्या- सवा लाख
अवधि- 5,11 या 15 दिन

रात्रि में किसी भी समय स्नान करके एक चौकी पर सफेद कपड़ा बिछाकर उस पर कुबेर यंत्र स्थापित कर दें फिर कुबेर यंत्र को जल से स्नान कराकर केसर पुष्पादि से उसकी पूजा करें फिर जैसे भी आप साधारण ढंग से पूजा करते हैं अगरबत्ती या दीपक जला लें इसके बाद उपयुक्त मंत्र का जाप करें इस मंत्र जाप की संख्या सवा लाख होनी चाहिए। इसलिए यह जरुरी नहीं कि इसे आप एक ही दिन में पूरा करें इस मंत्र को आप किसी भी शुभ दिन शुरू कर सकते हैं, उसके बाद 5, 11 या 15 दिनों में तक रोजाना इस मंत्र को करते रहे,

मंत्र

ऊँ ह्रीं श्रीं क्रीं श्रीं कुबेराय अष्ट लक्ष्मी मम गृहे धनं पूरय पूरय नमः।

 

उसके आखरी दिन जब यह मंत्र जाप संपन्न हो जाए तो कुबेर यंत्र के सामने चार दाने किशमिश का भोग लगा दें।

इन किशमिश के दानों को दूसरे दिन बालको में वितरित कर दें इसके बाद पारद कुबेर यंत्र को अपनी दुकान के कार्यालय में स्थापित करते हैं ऐसा करने से पारद कुबेर यंत्र सिद्ध हो जाते हैं, और व्यापार में आश्चर्यजनक रूप से वृद्धि होने लगती है, इस प्रयोग से दरिद्रता का नाश होता है और व्यापार नहीं चल रहा हो या सही प्रकार से
बिक्री नहीं हो रही हो या व्यापार करने में किसी भी प्रकार की समस्या आ रही हो तो सभी समस्याएं समाप्त हो जाती हैं।

 

 

No Comments

Give a Reply